कैलाश मानसरोवर यात्रा योजना 2024 ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, डॉक्यूमेंट

कैलाश मानसरोवर यात्रा योजना की शुरुआत देवदर्शन विभाग द्वारा की गयी थी| इस योजना के अंतर्गत प्रत्येक यात्री के लिए एक लाख रुपये की सहायता राशि सरकार द्वारा दी जा रही है| इस योजना की शुरुआत 1 अप्रैल 2011 को की गयी थी| कैलाश पर्वत तथा मानसरोवर झील का भ्रमण करने की इच्छा हर कोइ करता है, क्योंकि वहां की अप्रतिम सुन्दरता और प्राकृतिक नज़ारे सभी को आकर्षित करते हैं| इसलिए सरकार ने यह यात्रियों की इस यात्रा के लिए सहायता राशि प्रदान करके यात्रा सफल बनाने के लिए tirth yatra rajasthan को सफल बनाया है| इस आर्टिकल में हम kailash mansarovar yatra govt of india के बारे में विस्तार से अध्यन करेंगे| अतः इस आर्टिकल को अंत तक जरुर पढ़ें|

Kailash Mansarovar Tirth Yatra Yojna : कैलाश मानसरोवर तीर्थयात्रा योजना आवेदन प्रक्रिया
Contents hide
1 कैलाश मानसरोवर यात्रा योजना 2024

कैलाश मानसरोवर यात्रा योजना 2024

Rajasthan kailash mansarovar yatra Scheme 60 वर्ष से अधिक आयु के कैलाश मानसरोवर यात्रा हेतु श्रद्धालुओं को सहायता प्रदान करने के उद्देश्य से चलायी गयी है| इस तीर्थ यात्रा योजना के अंतर्गत प्रत्येक यात्री को एक लाख रुपये की अनुदान सहायता राशि दी जा रही है| यह योजना राजस्थान मूल के निवासियों के लिए ही है| इस योजना के लिए लौटरी प्रक्रिया के माध्यम से आवेदनकर्ताओं को यात्रा का मौका दिया जायेगा| कुल शीटों की संख्या 100 है, इससे अधिक संख्या में आवेदन आने पर लौटरी प्रक्रिया से चयन किया जायेगा| आप सरकार के द्वारा दी जाने वाली कैलाश मानसरोवर यात्रा सब्सिडी का लाभ ले सकते है।

kailash Mansarovar Yatra Govt of India Highlight

योजना का नाम कैलाश मानसरोवर यात्रा योजना
योजना का विभागराजस्थान राज्य देवस्थान विभाग , जयपुर 
उदेश्यकैलाश मानसरोवर की यात्रा सफलतापूर्वक सम्पन्न
करने वाले राजस्थान के स्थायी मूल निवासियों को
श्रद्धालुओं की सहायता करना |
योजना का प्रकारराज्य स्तरीय योजना लेकिन केंद्र सरकार द्वारा भी योगदान
लाभार्थी वर्गकैलाश मानसरोवर तीर्थ यात्री
आवेदन का प्रकारऑनलाइन तथा ऑफलाइन 
ऑफिसियल वेबसाइटkmy.gov.in/kmy

कैलाश मानसरोवर यात्रा का परिचय

कैलाश मानसरोवर की यात्रा जिन धार्मिक मान्यताओं और सांस्कृतिक महत्वों के कारण जानी जाती है, वे अनेक धर्मों तक व्यापक हैं| हिन्दू परंपरा के अनुसार यह महादेव भगवान शिव का निवास भी है और मिथकों का सुमेरु एवं स्वर्गीय कल्पना का सेतु भी| जैन धर्म के प्रथम तीर्थंकर ऋषभदेव, जिनको आदिनाथ भी कहा जाता है, इन्होने अपना मोक्ष कैलाश पर्वत पर ही पाया था| तिब्बत स्वयं में बौद्ध धर्म का महत्वपूर्ण केंद्र रहा है और उनके वज्रयानी परंपरा के लिए यह न केवल सुमेरु है, अपितु पद्मसंभव और चक्रसंवर का स्थान है|

तिब्बत के लोक धर्म वोन धर्म में यह मिलारेपा एवं नारो बोन चुंग नामक सिद्धों की कथा से भी जुड़ा है. इन सबके अतिरिक्त कैलाश पर्वत व मानसरोवर झील प्राकृतिक सुन्दरता में अप्रतिम हैं ही, जिनके दर्शन हर साल अनगिनत यात्री इस तीर्थ यात्रा पर जाते हैं। आप कैलाश मानसरोवर यात्रा योजना के तहत जुड़कर इसका लाभ ले सकते है।

कैलाश मानसरोवर यात्रा के लिए पात्रता

  • इस योजना का लाभ लेने के लिए राजस्थान का स्थायी मूल निवासी होना जरुरी है|
  • कैलाश मानसरोवर की यात्रा विदेश मंत्रालय, भारत सरकार के माध्यम से की जानी होगी इसलिए यात्रा की समाप्ति के बाद विदेश मंत्रालय द्वारा सफलतापूर्वक यात्रा सम्पन्न किये जाने का प्रमाणीकरण संलग्न किया जाना होगा |
  • इस योजना के माध्यम से जीवन में केवल एब बार ही अनुदान प्राप्त कर सकते हैं|

कैलाश मानसरोवर यात्रा योजना में लाभार्थियों की विभागीय सीमा

मानसरोवर यात्रा दर्शन के लिए विभाग द्वारा 100 तीर्थयात्री (सामान्यतः ) निर्धारित किये गए हैं| इससे अधिक संख्या में तीर्थयात्रा हेतु अधिक आवेदक होने पर लॉटरी प्रक्रिया द्वारा चयन किया जायेगा|

कैलाश मानसरोवर तीर्थयात्रा हेतु अनुदान राशि

यदि आप तीर्थ यात्रा योजना राजस्थान के तहत तीर्थ यात्रा पर जाते हैं तो devasthan tirth yatra rajasthan के अंतर्गत कैलाश मानसरोवर यात्रा कॉस्ट kailash mansarovar yatra के लिए रुपये 1,00,000/- (अक्षरे एक लाख रुपये) प्रति यात्री की सहायता सरकार द्वारा दी जाएगी|

कैलाश मानसरोवर तीर्थयात्रा दस्तावेज

यदि आप kailash mansarovar yatra के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको निचे दिए गए दस्तावेजों की जरुरत पड़ेगी-

  • राजस्थान के मूल निवास प्रमाण पत्र की प्रमाणित फोटो कॉपी।
  • पासपोर्ट (मय स्थायी पते) की प्रमाणित फोटो कॉपी।
  • यात्रा संबंधी वांछित वीजा सील/अंकन की प्रमाणित फोटो कॉपी।
  • विदेश मंत्रालय, भारत सरकार से यात्रा सफलतापूर्वक सम्पन्न करने के प्रमाण पत्र की प्रमाणित फोटो कॉपी।
  • आधार कार्ड/मतदाता पहचान-पत्र/ भामाशाह कार्ड की फोटो-कॉपी।

कैलाश मानसरोवर यात्रा आवेदन की प्रक्रिया

कैलाश मानसरोवर की यात्रा हेतु आवेदन की प्रक्रिया विदेश मंत्रालय भारत सरकार के माध्यम से संपादित की जायेगी। mukhyamantri tirth yatra yojana rajasthan के तहत कैलाश मानसरोवर तीर्थयात्रा योजना के लिए अप्लाई करने के लिए ऑनलाइन तथा ऑफलाइन दोनों प्रकार के तरीके मान्य है| जो तरीका आपके लिए सुविधाजनक हो, वही अपना सकते हैं| आएये जानते हैं ऑनलाइन तथा ऑफलाइन तरीके से किस प्रकार आवेदन कर सकते हैं-

कैलाश मानसरोवर तीर्थयात्रा ऑनलाइन आवेदन

  • देवस्थान विभाग से अनुदान हेतु आवेदन की प्रक्रिया ऑनलाइन होगी इसके लिए सबसे पहले आपको देवस्थान विभाग की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा|
  • इसके बाद योजनायें पर क्लिक करना है|
  • इसके बाद तिन नंबर पर कैलाश मानसरोवर तीर्थयात्रा योजना लिखा होगा उसके सामने दिए गए पीडीऍफ़ पर क्लिक करना है|
  • अब आपको आवेदन-पत्र का फोर्मेट मिलेगा जिसको प्रिंट करवा लेना है|
  • प्रिंट आवेदन को भरकर इसके साथ मांगे गए दस्तावेज अटेच करके यात्रा करने के दो माह के अन्दर जमा कराना होगा।
  • ऑनलाइन आवेदन के लिए तिथि विभागीय विज्ञप्ति अनुसार घोषित की जायेगी।
  • सामान्यतः यह प्रक्रिया जून से सितम्बर माह में की जाती है|
  • इस प्रकार से आप कैलाश मानसरोवर यात्रा के लिए आवेदन कर सकते है।

कैलाश मानसरोवर यात्रा ऑफ़लाइन आवेदन

  • ऑफलाइन आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको देवस्थान विभाग की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा| इसके बाद योजनायें पर क्लिक करना है|
  • इसके बाद तिन नंबर पर कैलाश मानसरोवर तीर्थयात्रा योजना लिखा होगा उसके सामने दिए गए पीडीऍफ़ पर क्लिक करना है| अब आपको आवेदन-पत्र का फोर्मेट मिलेगा जिसको प्रिंट करवा लेना है|
  • इसके बाद सहायक आयुक्त कार्यालय देवस्थान विभाग प्रिंट आवेदन को भरकर इसके साथ मांगे गए दस्तावेज अटेच करके यात्रा करने के दो माह के अन्दर जमा कराना होगा ।
  • आवेदन की ऑफलाइन प्रक्रिया तभी मान्य होगी, जब इस हेतु विशेष निर्देश जारी हों |
  • यदि निर्धारित कोटे से अधिक संख्या में आवेदन प्राप्त होते हैं, तो लॉटरी rajasthan tirth yatra lottery (कम्प्यूटराईज्ड ड्रा आफ लाट्स) द्वारा यात्रियों का चयन किया जा सकेगा|

Kailash Mansarovar Yatra Selection Process

कैलाश मानसरोवर की विदेश मंत्रालय, भारत सरकार के माध्यम से यात्रा करने वाले श्रद्धालु यात्रा समाप्ति के दो माह के अन्दर अपना आवेदन संबंधित उपखण्ड अधिकारी/सहायक आयुक्त, देवस्थान विभाग के कार्यालय में मूल दस्तावेज के साथ स्वयं उपस्थित होकर प्रस्तुत करेंगे।प्रस्तुतकर्ता अधिकारी संलग्न दस्तावेजों को मूल से मिलान कर, सही पाये जाने पर, इस आशय का नोट अंकित करेंगे।उपखण्ड अधिकारी प्राप्त आवेदन पत्रों को 15 दिवस के अन्दर संबंधित सहायक आयुक्त, देवस्थान विभाग को अग्रेषित करेंगे, जो 15 दिवस में बाद जांच स्वीकृति जारी करेंगे।

कैलाश मानसरोवर यात्रा मैप / कैलाश मानसरोवर यात्रा रूट

kailash mansarovar rout map : इसके लिए दो रास्ते हैं-
लिपुलेख दर्रा (उत्तराखण्ड)और
नाथु-ला दर्रा (सिक्किम)

kailash mansarovar rout map
  • भारत सरकार का विदेश मंत्रालय प्रत्येक वर्ष जून से सितंबर के दौरान दो अलग-अलग मार्गों- लिपुलेख दर्रा (उत्तराखण्ड), और नाथु-ला दर्रा (सिक्किम) से कैलाश यात्रा का आयोजन करता है। दोनों यात्राओं की अवधि एवं लागत राशि भी अलग-अलग है|
  • यह यात्रा बहुत दुर्गम भी है| जिसमें प्रतिकूल स्थितियों और खराब मौसम में ऊबड़-खाबड़ भू-भाग से होते हुए 19,500 फुट तक की चढ़ाई चढ़नी होती है |
  • यह उन लोगों के लिए जोखिम भरी हो सकती है जो शारीरिक दृष्टि से स्वस्थ एवं तंदुरुस्त नहीं हैं। इस कारण यात्रा से पहले दिल्ली में डीएचएलआई और आईटीबीपी द्वारा की चिकित्सा जाँचों के बाद ही अनुमति दी जाती है|

कैलाश मानसरोवर तीर्थयात्रा राशि का भुगतान

कैलाश मानसरोवर यात्रा के तहत कैलाश मानसरोवर योजना की अनुदान / सहायता राशि का भुगतान आनलाईन बैंक अकाउन्ट में किया जायेगा। विभागीय स्थिति अनुसार बैंकर चेक/डिमाण्ड ड्राफ्ट (Account Payee) द्वारा किया जाएगा। अतः इस योजना कीसहायता राशि के लिए आपका एक चालू बैंक खाता होना चाहिए ताकि अनुदान राशि आ सके| साथ ही आपके बैंक खाते में पैसों के लेन-देन की सीमा भी 1 लाख से अधिक होनी चाहिए|

कैलाश मानसरोवर तीर्थ यात्रा जिलेवार यात्रियों की संख्या

  • कैलाश मानसरोवर तीर्थ यात्रा योजना 2018-19 व वित्तीय वर्ष 2010-11 से 2018-19 तक की जिलेवार यात्रियों की संख्या का विवरण निचे सारणी में देख सकते हैं|
कैलाश मानसरोवर तीर्थ यात्रा योजना 2018-19 वित्तीय वर्ष 2010-11 से 2018-19 तक की सूचना जिलेवार यात्रियों की संख्या

स्वीकृति करने वाले अधिकारी

इस योजना के लिए समस्त सहायक आयुक्त, देवस्थान विभाग (वृन्दावन के अतिरिक्त) द्वारा स्वीकृति प्रदान की जाती है|

कैलाश मानसरोवर यात्रा योजना संपर्क सूत्र

  • इस योजना के लिए संबंधित उपखण्ड अधिकारी/सहायक आयुक्त, देवस्थान विभाग से संपर्क करके अधिक जानकारी प्राप्त की जा सकती है|
devsthan vibhag rajsthan Helpline Number

NOTE:-

  • उक्त विवरण केवल सरल संकेतक है। योजना संबंधी अन्य शर्तों, प्रावधानों के लिये मूल विभागीय आदेश व परिपत्रों का अवलोकन करें। विभाग द्वारा नियमों के अध्यधीन उपनियम बनाए जा सकेंगे।
  • योजना संबंधी किसी भी बिन्दु पर समस्या समाधान आयुक्त कार्यालय देवस्थान विभाग, उदयपुर से किया जा सकेगा।
  • इस योजना के किसी भी दिशा निर्देश, आदेश की व्याख्या के लिये देवस्थान विभाग राजस्थान सरकार का विनिश्चय अन्तिम होगा।

निष्कर्ष

इस आर्टिकल में दोस्तों राजस्थान सरकार की कैलाश मानसरोवर यात्रा योजना के बारे में विस्तार से जानकारी दी है। अगर आप भी कैलाश मानसरोवर की यात्रा करना चाहते है तो आप इस आर्टिकल की मदद से इस योजना के लिए आवेदन कर सकते है। अधिक जानकारी के लिए आप इस योजना की ऑफिसियल वेबसाइट kmy.gov.in पर विजिट कर सकते है।

Leave a Comment