Maharashtra Antarjatiya Vivah Yojana 2023: अंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र

अंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र 2023 | Antarjatiya Vivah Yojana Maharashtra Online Form | Antarjatiya Vivah Yojana Maharashtra Marathi | इंटर कास्ट मैरिज योजना महाराष्ट्र फॉर्म

महाराष्ट्र अंतरजातीय विवाह योजना – महाराष्ट्र सरकार ने अपने राज्य मे इंटर-कास्ट मेरीज को बढ़ावा देने के लिए Maharashtra Interracial Marriage Scheme की शुरुवात की है । हमारे समाज मे अंतरजातीय विवाह को नहीं माना जाता है और जो कपल अंतरजातीय विवाह करना भी चाहता है उसका समाज दुश्मन हो जाता है ।लेकिन महाराष्ट्र सरकार अपने राज्य मे अंतर जातीय विवाह करने वाले जोड़ो को पहले 50 हजार रुपए की सहायता देती थी लेकिन अब इस राशि को बढ़ाकर 3 लाख रुपए कर दिया है । यानि की शादी करने वाले मे से अगर कोई एक अनुसूचित जाती से है तो उसे सरकार 3 लाख रुपए की मदद देगी । अगर आप महाराष्ट अंतरजातीय विवाह योजना के लिए आवेदन करना चाहते है और महाराष्ट्र अंतरजातीय विवाह योजना फॉर्म लेना चाहते है तो आप इस आर्टिकल को पूरा पढे ।

Antarjatiya Vivah Yojana Maharashtra

अक्सर हमारे समाज मे इंटर-कास्ट विवाह को लोग नहीं मानते है बल्कि अगर कोई करता भी है तो समाज उसका दुश्मन हो जाता है और पुलिस उनके पीछे लगा दी जाती है । एसे जोड़े विवाह तो कर लेते है लेकिन बाद मे उनके रहने के लिए उन्हे कई प्रकार की दिक्कतों का सामना करना पढ़ता है । खाने पीने की चीजों से लेकर रहने तक की सुविधा उन्हे खुद से करनी होती है । महाराष्ट्र सरकार ने इस प्रकार के कपल की सहायता करने के लिए और समाज मे इंटर -कास्ट मेरीज को बढ़ावा देने और समाज मे जाती भेदभाव को मिटाने के लिए इंटर कास्ट मैरिज योजना महाराष्ट्र को शुरू किया है जो की बहुत ही अछि पहल है ।

Maharashtra Interracial Marriage Scheme 2023 Highlights

योजना का नामअंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र 2023
योजना शुरू की महाराष्ट्र सरकार के द्वारा
लाभार्थीइंटर-कास्ट मेरीज करने वाले कपल
उद्देश्यसमाज मे इंटर-कास्ट मेरीज को बढ़ावा देना
राज्यमहाराष्ट्र

योजना के तहत पहले लाभार्थी को 50 हजार रुपए की आर्थिक मदद दी जाती थी लेकिन अब सरकार ने इस योजना मे बदलाव करते हुये इस राशि की रकम को बढ़ाकर 3 लाख रुपए कर दिया है । अगर शादी करने वाले जोड़े मे कोई एक अनुसूचित जाती से है तो उसे सरकार इस योजना के तहत 3 लाख रुपए देगी ।

अंतरजातीय विवाह योजना का उद्देश्य

हमारे समाज मे अनुसूचित जाती के लोगो के साथ बहुत भेदवाव किया जाता है भेदभाव इतना की लोग दलित परिवार के व्यक्ति को अपने घर मे नहीं आने देते है तो उससे शादी करना तो दूर बात है । लेकिन महाराष्ट्र सरकार अपने राज्य मे जाती के भेदभाव को मिटाने के लिए इस प्रकार की योजनाए लाती रहती है । राज्य मे इंटर -कास्ट मेरीज को बढ़ावा देना और समाज मे से जाती के भेदभाव को मिटाना ही अंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र 2023 का मुख्य उद्देश्य है । अगर कोई इंटर कास्ट मेरीज करता है तो उसे अपने घर से बाहर रहना पड़ता है और उसे अपने रहने की व्यवस्था भी खुद को करनी होती है इसलिए सरकार ने इस योजना के तहत इन लोगो की मदद करने का निरण्य लिया और इस योजना की शुरुआत की है ।

Maharashtra Interracial Marriage Scheme 2023

इस योजना का लाभ शादी करने वाले उन जोडो को मिलेगा जिनहोने हिन्दू विवाह अधिनियम 1955 या विशेष विवाह अधिनियम 1954 के तहत आवेदन किया है योजाना के तहत दी जाने वाली राशि का आधा हिसा केंद्र सरकार और आधा हिसा राज्य सरकार देती है । यानि की 50% राशि केंद्र सरकार देती है और 50% राशि राज्य सरकार देती है ।आपको बता दे की अगर आप इस योजना का लाभ लेना चाहते है तो आपको इसके लिए आवेदन करना होता है जो की हम आपको आगे बताएंगे की आप किस प्रकार से आवेदन कर सकते है ।

महाराष्ट्र अंतरजातीय विवाह योजना की विशेषताएं

  • योजना के तहत लाभार्थी को तीन लाख रुपए की सहायता दी जाती है जिनमे से 50 हजार रुपए राज्य सरकार देती है और 2.50 लाख रुपए डॉ अंबेडकर फ़ाउंडेशन देता है ।
  • इस योजना के आ जाने से समाज मे भेदभाव कम होगा ।
  • अंतरजातीय विवाह योजना के तहत दी जाने वाली राशि उस युवक या युवती को दी जाती है जिसने किसी अनुसूचित जाती या अनुसूचित जनजाति के युवक या युवती से शादी की है ।
  • लाभार्थी को दी जाने वाली राशि उसके बैंक खाते मे सीधे ट्रान्सफर की जाती है । इसलिए लाभार्थी का बैंक खाता होना जरूरी है जो की आधार कार्ड से जुड़ा हुआ होना चाहिए ।
  • आपको जानकर खुसी होगी की इस योजना मे सालाना आय का कोई झमेला नहीं है यानि की आपकी सालाना आय चाहे कितनी भी हो आप इस योजना का लाभ ले सकते है ।

अंतरजातीय विवाह योजना के लिए पात्रता

  • लाभार्थी महाराष्ट्र राज्य का स्थायी निवाशी होना चाहिए ।
  • इस योजना का लाभ पाने के लिए विवाहित जोड़े की कोर्ट मेरीज होना जरूरी है ।
  • विवाहित जोड़े मे से कोई एक अनुसूचित जाती का होना जरूरी है ।
  • योजना के लिए युवक की उम्र 21 साल और युवती की उम्र 18 साल से कम नहीं होनी चाहिए ।

    Maharashtra Inter Caste Marriage Scheme डॉक्युमेंट्स

    • जाती प्रमाण पत्र
    • आयु प्रमाण पत्र
    • आधार कार्ड
    • बैंक अकाउंट पसबूक
    • कोर्ट मेरीज का प्रमाण पत्र
    • पासपोर्ट साइज़ फोटो
    • मोबाइल नंबर

    अंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र 2023 के लिए आवेदन केसे करे

    आवेदन करने के लिए आपको सबसे पहले महाराष्ट्र सरकार की आधिकारिक वैबसाइट पर जाना होगा । होम पेज पर आने के बाद आपको होम पेज पर अंतरजातीय विवाह योजना का ऑप्शन दिखाई देगा इस लिंक पर आपको क्लिक करना है । अगले पेज पर आपके सामने इस योजना का फॉर्म ओपन हो जाता है इस फॉर्म को सही सही भरना होता है उसके बाद मांगे गए सारे डॉक्युमेंट्स इसके साथ अपलोड करे और अंत मे सबमिट बटन पर क्लिक कर देवे और इस प्रकार से आपका आवेदन हो जाता है ।

    कुछ जरूरी सवाल

    Q. Maharashtra Antarjatiya Vivah Yojana क्या है ?

    Ans. एसे युवक या युवती जो की इंटर -कास्ट मेरीज करते है उनको सरकार इस योजना के तहत आर्थिक मदद देती है । पहले इस योजना के तहत 50 हजार रुपए की राशि दी जाती थी लेकिन अब 3 लाख रुपए कर दिया है । 50 हजार रुपए राज्य की सरकार देती है और बाकी के 2.5 लाख रुपए डॉ अंबेडकर फ़ाउंडेशन की और से दिये जाते है ।

    2 thoughts on “Maharashtra Antarjatiya Vivah Yojana 2023: अंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र”

    1. Sir maine kal hi pure documents de diye hai jo intercast marriage. Ke liye chahiye Maharashtra ke pune main to kab tak mujhe sahyatta nidhi mil sakati hai

      Reply

    Leave a Comment