मेरा पानी मेरी विरासत योजना : Mera Pani Meri Virasat Yojana

Mera Pani Meri Virasat Yojana – हरियाणा सरकार राज्य में लोगो को लाभ प्रदान करने के लिए अनेक प्रकार की लाभकारी योजना लेकर के आ रही है | हरियाणा में जमीन के पानी का स्तर दिन प्रतिदिन कम होता जा रह है | इस बात को ध्यान में रखते हुए सरकार ने इस योजना को शुरू किया है | योजना के तहत सरकार किसानो को एसी फसल की बुवाई करने के लिए प्रेरित करेगी जिनमे पानी की कम खपत होती है | इस योजना के तहत सरकार किसानो की वित्तीय मदद करेगी | इस आर्टिकल में हम आपको Mera Pani Meri Virasat Yojana में आवेदन करने की प्रक्रिया , पात्रता आदि के बारे में जानकारी प्रदान करेंगे इस लिए आप इस आर्टिकल को अंत तक पढ़े |

mera-pani-meri-virasat-scheme-haryana

Mera Pani Meri Virasat Yojana Haryana

हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खटर ने इस योजना को शुरू किया है | योजना के तहत अगर किसान भाई अपनी जमीन पर एसी फसल उगाते है जिनमे में सिंचाई के लिए पानी की कम जरूरत होती है जैसे की – कपास ,बाजरा ,मक्का ,दलहन ,सब्जियां आदि उगाने पर सरकार उनको प्रति एकड़ 7000 रूपये की मदद देगी | अगर आप भी मेरा पानी मेरी विरासत योजना का लाभ लेना चाहते है तो आपको इसके लिए आवेदन करना होगा |

इसके अलावा जो किसान धान की खेती की जगह फलदार खेती या बागवानी करते है उनको बागवानी विभाग के द्वारा अलग से अनुदान राशी दी जायगी | राज्य में लगातार धान की खेती का क्षेत्र बढ़ रहा है जिसके कारन प्रतिवर्ष 1.0 मीटर भूजल स्तर में गिरावट आ रही है | Mera Pani Meri Virasat Yojana का लाभ उनकी किसानो को दिया जायेगा जो धान की खाते छोड़कर के कोई और खेती करते है |

Mera Pani Meri Virasat Yojana Haryana Highlights

योजना का नाम मेरा पानी मेरी विरासत योजना
योजना टाइप राज्य सरकार की योजना
राज्य हरियाणा
उद्देश्य प्रदेश में गिरते पानी के स्तर को कम करना
लाभार्थी राज्य के किसान भी
विभाग कृषि एवं किसान कल्याण विभाग हरियाणा

मेरा पानी मेरी विरासत हरियाणा

Mera Pani Meri Virasat Yojana के तहत वे क्षेत्र टारगेट किया जायेंगे जहाँ पर पानी का स्तर कम है और जहाँ पर अधिक धान की खेती होती है | इस प्रकार के क्षेत्र जहाँ पर पानी का स्तर 40 मीटर से निचे जा चूका है | राज्य में योजना के तहत ऐसे 19 ब्लाक सामिल किया गया है जहाँ पर पानी का स्तर 40 मीटर से निचे चला गया है | इनमे से 8 ब्लाक ऐसे है जहाँ पर धान की खेती सबसे अधिक की जाती है जो की है –  पिपली ,बबैन ,फतेहाबाद में रतिया और कुरुक्षेत्र में शाहाबाद ,इस्माइलाबाद ,गुहला, सिरसा और कैथल के सीवन सीवन  शामिल है | Mera Pani Meri Virasat Scheme Haryana के तहत जहाँ पर पानी का स्तर 35 मीटर से निचे चला गया है वहां पर धान की खेती के लिए अनुमति नहीं है |

Mera Pani Meri Virasat Yojana की विशेषताएं

  • इस योजना के तहत प्रदेश में पानी के गिरते स्तर को कम करने के लिए सरकार किसानो को प्रोत्शाहन राशी देगी |
  • अगर कोई किसान धान की खेती ना करके कोई एसी फसल की खेती करता है जिससे पानी की खपत कम होती है उसे सरकार की और से 7000 रुपए की राशी प्रति एकड़ दी जाएगी |
  • योजना के तहत किसान भी धान की खेती को छोड़कर  मक्का /कपास / बाजरा / दलहन / बागवानी की खेती कर सकता है |
  • हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहरलाल खटर ने मेरा पानी मेरी विरासत हरियाणा को लौंच किया है |
  • सरकार का कहना है की बहुत जल्द एक एसा पोर्टल लौंच किया जायेगा जिस पर किसान भी अपनी आवाज उठा सकता है |
  • 19 ब्लाक को छोड़कर के कोई अन्य ब्लाक का किसान भी धान की खेती छोड़ना चाहता है तो वो इस योजना का लाभ ले सकता है |
  • राज्य के सभी जिलो में यह योजना लागु है |
  • जिन क्षेत्रो में भू-जल स्तर 35 मीटर से निचे चला गया है वहां पर धान की खेती की अनुमति नहीं है |

Mera Pani Meri Virasat Yojana के लाभ

  • इस योजना से राज्य में भू-जल स्तर को गिरने से रोका जा सकेगा |
  • जो किसान भी धान की खेती को छोड़कर के वैक्लपिक फसलो मक्का ,कपास ,बाजरा ,दलहन ,बागवानी उगाते है उनको सरकार की और से 7000 रुपए की प्रति एकड़ मदद दी जाएगी |
  • इस योजना का लाभ लेने के लिए किसानो को ऑनलाइन आवेदन करना होगा जिसके लिए सरकार ने ऑनलाइन पोर्टल जारी किया है ताकि किसानो को सरकारी दफ्तर के चकर ना काटने पड़े |
  • योजना के तहत सरकार मक्का प्लांटर, मल्टी क्रॉप प्लांटर तथा न्युमैटिक प्लांटर  जैसे यंत्रो पर 40 से 50 फीसदी सब्सिडी प्रदान करेगी |

हरियाणा मेरा पानी मेरी विरासत योजना का उद्देश्य

  • Mera Pani Meri Virasat Yojana का मुख्य उद्देश्य प्रदेश में गिरते  भू-जल स्तर को कम करना है |
  • प्रदेश में एसी फसल को कम करना है जिनमे सिंचाई के लिए पानी की खपत अधिक होती है |
  • राज्य में नवीनतम तकनीको को विकसति करना और वैकल्पिक  फसलो को बढ़ावा देना |
  • संसाधनों के संरक्षण को बढावा देना |
  • भू-जल स्तर को बनाए रखना |
  • जो किसान धान की खेती ना करके वैकल्पिक  फसलो की बुवाई करते है उनको सरकार प्रोत्सहन राशी प्रदान करेगी |

Mera Pani Meri Virasat Scheme के लिए पात्रता

  • आवेदक हरियाणा राज्य का स्थाई निवासी होना चाहिए |
  • जो किसान भाई धान की खेती को छोड़कर वैकल्पिक फसलो की बुवाई करना चाहता है वो इस योजना के लिए पात्र है |
  • प्रदेश का किसान इस योजना के लिए पात्र है |
  • राज्य के सभी जिलो में इस योजना का लगु किया गया है |

Mera Pani Meri Virasat Yojana के लिए दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • भूमि के कागजात
  • पहचान पत्र
  • बैंक खाता पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

मेरा पानी मेरी विरासत योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करें ?

अगर आप भी इस योजना का लाभ लेना चाहते है और आप इस योजना में आवेदन करना चाहते है तो आप निचे दिए गए स्टेप फोल्लो करें :-

mera pani meri virasat scheme registration
  • site पर आने के बाद आपको होम पेज पर फसल विविधीकरण के लिए पंजीकरण करें का आप्शन दिखाई देगा इस पर क्लिक करना है |
mera pani meri virasat scheme upsc
  • न्यू पेज पर आने के बाद आपको अपने आधार नंबर दर्ज करके Next पर क्लिक करना है | इसके बाद आपके समें फॉर्म ओपन हो जायेगा |
  • फॉर्म में आपको मांगी गई जनकारी जैसे की जमीन से जुडी हुई जानकारी , बैंक से जुडी हुई जानकारी दर्ज करनी है |
  • सभी जांनकारी दर्ज करने के बाद आपको फॉर्म को सबमिट कर देना है और इस प्रकार से आपका रजिस्ट्रेशन पूरा हो जाता है |

मेरा पानी मेरी विरासत योजना Status चेक कैसे करें?

  • यदि आप अपने आवेदन का स्टेटस चेक करना चाहते है तो आप विभाग के हेल्पलाइन नंबर पर सम्पर्क कर सकते है।
  • स्टेटस चेक करने के लिए आपको सबसे पहले इसकी ऑफिसियल वेबसाइट पर आना होगा।
  • उसके बाद स्टेटस के आप्शन पर क्लिक करे।
  • अपना पंजीकरण संख्या दर्ज करें स्टेटस पर क्लिक करें।
  • इतना करने के बाद आपके सामने आपके आवेदन की स्थिति आ जाएगी।

रिचार्ज शाफ़्ट के लिए आवेदन कैसे करें ?

  • इसके लिए सबसे पहले Mera Pani Meri Virasat Yojana की ऑफिसियल वेबसाइट पर आपको आना होगा |
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको रिचार्ज शाफ़्ट के लिए आवेदन करें का आप्शन दिखाई देगा इस पर क्लिक करना है |
mera pani meri virasat yojana online registration
  • आपके सामने फॉर्म ओपन हो जायेगा इसमें आपको मांगी गई सभी जानकारी सही सही दर्ज करनी है और फॉर्म को सबमिट कर देना है |

बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के लिए पंजीकरण कैसे करें ?

  • सबसे पहले कृषि एवं किसान कल्याण विभाग हरियाणा की ऑफिसियल वेबसाइट पर आपको आना होगा |
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको बाढ़ प्रभावित क्षेत्र के लिए विकल्प का आप्शन दिखाई देगा इस पर क्लिक करना है |
mera pani meri virasat yojana portal
  • आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म ओपन हो जायेगा इसमें आपक सामान्य विवरण , किसान का विवरण ,कुल भूमि जोत की जानकारी ,वर्तमान वर्ष की फसल का विवरण आदि सभी जानकारी आपको सही सही दर्ज करनी है और फॉर्म को सबमिट कर देना है इस प्रकार से आपका रजिस्ट्रेशन पूरा हो जायेगा |

सम्पर्क करें

अगर आपको Mera Pani Meri Virasat Yojana में आवेदन करने में किसी भी प्रकार की कोई दिक्कत आ रही है या फिर आपको इस योजना के बारे में अधिक जानकारी लेनी है तो आप सम्बन्धित विभाग से सम्पर्क कर सकते है | इसके लिए आपको सबसे पहले कृषि एवं किसान कल्याण विभाग की ऑफिसियल वेबसाइट पर आना होगा | वेबसाइट के होम पेज पर आपको सम्पर्क करें का आप्शन दिखाई देगा इस पर क्लिक करना है |

mera pani meri virasat yojana registration

आपके सामने न्यू पेज ओपन हो जायेगा इस पेज पर आपको कांटेक्ट डिटेल दिखाई देगी आप निचे दिए गए टोल फ्री नंबर पर सम्पर्क कर सकते है :-

  • मेरा पानी मेरी विरासत योजना हेल्पलाइन नंबर :- 1800-180-2117

इस आर्टिकल में हमने आपको हरियाणा सरकार के द्वारा चलाई जा रही Mera Pani Meri Virasat Yojana 2023 के बारे में पूरी जानकारी विस्तार से दी है। अगर आप भी इस योजना का लाभ लेना चाहते है तो आप इस योजना के लिए आवेदन कर सकते है।

Leave a Comment