[Last Date] राजस्थान अंतरजातीय विवाह योजना 2021: Rajasthan Inter Caste Marriage

अंतरजातीय विवाह योजना राजस्थान 2021 | Inter Caste Marriage Scheme | Inter Caste Marriage Benefits Application Form | अंतर जाति विवाह लाभ आवेदन फार्म pdf

Inter Caste Marriage Scheme 2021 – प्रदेश मे अंतर्जातीय विवाह को प्रोत्साहन देने के लिए सरकार ने अंतर्जातीय विवाह प्रोत्साहन योजना को शुरू किया है सरकार इस योजना के तहत नोजवानों को प्रोत्साहन राशि देगी सामाजिक न्याय एव आधिकारिता मंत्री डॉ अरुण चतुर्वेदी ने इस बात की जानकारी दी है की इस योजना का कोई गलत उपयोग ना करे इसकी लिए इसमे कुछ नियम बनाए गए है जो कोई भी इस योजना के लिए पात्र होगा सरकार उसे ही प्रोत्साहन राशि देगी |इस आर्टिकल मे हम जानेगे की अंतर्जातीय विवाह प्रोत्साहन योजना क्या है अंतर्जातीय विवाह प्रोत्साहन योजना के लाभ क्या है अंतर्जातीय विवाह प्रोत्साहन योजना के लाभ लेने के लिया आवेदन केसे करे |

राजस्थान अंतर्जातीय विवाह प्रोत्साहन योजना
राजस्थान अंतर्जातीय विवाह प्रोत्साहन योजना ,केसे मिलेगा लाभ, केसे करे आवेदन

Rajasthan Inter Caste Marriage Scheme 2021

राजस्थान सरकार ने अपने राज्य मे एक अच्छी योजना की शुरवात की है अंतर्जातीय विवाह यानि की अलग अलग जातियो मे विवाह होना आज के टाइम मे बहुत से नोजवान अंतर्जातीय विवाह कर रहे है अंतर्जातीय विवाह करने पर सरकार इस योजना के तहत विवाह करने वालों को प्रोत्साहन राशि देती है इस योजना का कोई गलत लाभ न ले इसके लिए सरकार ने अंतरजातीय विवाह योजना राजस्थान 2021 के तहत कुछ नियम बनाए है और जो भी इस योजना के लिए पात्र होता है सरकार उसे ही इस योजना के लिए प्रोत्साहन राशि देगी अगर कोई गलत डॉकयुमेंट देकर इस योजना का लाभ लेना चाहता है तो योजना के नियमो के अनुसार उस पर कारवाई की जाएगी |

अक्सर क्या देखने को मिलता है की जो युवा दंपति अंतर्जातीय विवाह करना चाहता है उसे यह विवाह भागकर करना होता है और अपने घर से बाहर रहना होता है क्यूकी यह इसलिए होता है की हमारे समाज मे अभी तक Inter Caste Marriage Scheme का इतना प्रचालन नहीं है इन विवाह करने वाले नोजवानों को किसी थोड़ी मदद देने के लिया सरकार ने इस योजना को चालू किया है योजना के तहत नोजवाओ को एकमुश्त राशि मिलेगी जो की उहे पाना आवास बनाने के लिए मदद देगी |

Rajasthan Inter Caste Marriage Scheme highlights

योजना का नामअंतरजातीय विवाह योजना राजस्थान 2021
स्थानराजस्थान
उद्देश्यप्रोत्साहन राशि देकर मदद देना
योजना का प्रकारCM योजना
ओफ़्फ़िसियल वैबसाइटClick here

साथ मे आपको इस बारे मे भी जानकारी दे देते है की सामाजिक न्याय और आधिकारिता विभाग की प्रगति की रिपोर्ट के अनुसार साल 2011-12 मे 130 जोड़ो को 65 लाख रुपए और साल 2012-13 मे 175 जोड़ो को 87.50 लाख रुपए की प्रोत्साहन राशि योजना के तहत दी गयी इसी क्रम मे साल 2013-14 मे 261 जोड़ो को 726 लाख रुपए दिया गए है

अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना राजस्थान से मिलने वाले लाभ

  • एसे जोड़े जो अंतर्जातीय विवाह विवाह कर रहे है उनको एकमुश्त राशि मिलेगी जो की उनेक न्यू घर बनाने मे उनकी मदद करेगी
  • इस योजना का मुख्य लाभ यह है की अंतर्जातीय विवाह करने वालों को प्रोत्साहन राशि दी जाए ताकि वे अपना घर बना सके उनको कोई दिक्कत का सामना न करना पड़े
  • सरकार का मानना है की अगर इस प्रकार की कोई योजना लाई जाती है तो वह समाज मे सामाजिक समरसता पैदा करती है |
  • राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना के तहत पति और पत्नी दोनों को 5 लाख रूपये की मदद दी जाती है |
  • इस योजना के तहत 2.5 लाख रूपये का दोनों के खाते में 8 वर्ष के लिए फिक्स डिपॉजिट कर दिया जाता है |
  • 2.5 लाख रूपये की मदद जोड़ो को नगद बैंक के माध्यम से दी जाती है |

अंतर्जातीय विवाह योजना के तहत मिलने वाली प्रोत्साहन राशि

डॉ सविता बेन अंबेडकर अंतर्जातीय विवाह योजना ने बताया है की योजना के तहत पति पत्नी दोनों को 5 लाख रुपए की प्रोत्साहन राशि दी जाएगी इनमे से 2.50 लाख रुपए दोनों के सयुंक्त खाते मे 8 वर्ष के लिए फिक्स डिपॉजिट कर दिया जाता है बाकी के 2.50 लाख रुपए युगल को दे दिये जाते है ताकि वे अपने घर का निर्माण कर सके योजना के तहत मिलने वाली राशि लाभार्थियो के बैंक खाते मे सीधे ट्रान्सफर कर दी जाएगी

Rajasthan Inter Caste Marriage Scheme के लिए पात्रता

  • आवेदनकर्ता राजस्थान राज्य का स्थायी निवाशी होना चाहिए
  • आवेदन करने वाले की उम्र 35 साल से अधिक नहीं होनी चाहिए
  • योजना के तहत जो नए आवेदन कर रहे है वो किसी भी प्रकार के आपराधिक मामलो के दोषी नहीं होने चाहिए
  • इस योजना के तहत आवेदन करने के लिए आपका मेरीज सर्टिफिकेट होना जरूरी है
  • आवेदक वार्षिक की आय 2.50 लाख रुपए से अधिक नहीं होनी चाहिए
  • वे आवेदन कर्ता जो पहली बार शादी कर रहे है उनको ही इस योजना का लाभ मिलेगा जो दुबारा शादी कर रहे है वो इस योजना का लाभ नहीं ले सकते है
  • आपको बता दे की अगर आप इस योजना का लाभ लेना चाहते है तो आपको इसके लिए विवाह के 1 साल के अंदर योजना के लिए आवेदन करना होता है तभी आप इस योजना का लाभ ले पाएंगे

अंतर्जातीय विवाह प्रोत्साहन योजना के लिए जरूरी डॉक्युमेंट्स

  • मतदाता पहचान पत्र
  • आधार कार्ड
  • पेन कार्ड
  • जाती प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • बर्थ सेर्टिफिकेट
  • जोड़े का एक साथ का फोटो
  • मेरीज सेर्टिफिकेट

अंतरजातीय विवाह योजना राजस्थान 2021 के लिए आवेदन केसे करे

  • अगर आप इस योजना का लाभ लेना चाहते है और आवेदन करना चाहते है तो आपको सबसे पहले इसकी आधिकारिक वैबसाइट पर जाना होता है जेसे ही आप इस लिंक पर क्लिक करेंगे आपके सामने यह वैबसाइट ओपेन हो जाती है
अंतर्जातीय-विवाह-प्रोत्साहन-योजना-वैबसाइट
  • इस योजना मे आप ग्रह जनपद मे इमित्र राजस्थान एसएसओ के माध्यम से भी अपना आवेदन कर सकते है याद रहे की आपके पास आवेदन करते टाइम अपने सारे डॉक्युमेंट्स की कॉपी होनी चाहिए आपके सभी डॉक्युमेंट्स ऑनलाइन सकेन किए जाएगे अगर आपके विवाह को 1 साल से अधिक हो जाता है तो आपका आवेदन फोरम मान्य नहीं होगा |

Helpline Number

अगर आपको Inter Caste Marriage Benefits Rajasthan 2021 के बारे में किसी भी प्रकार की कोई जनकारी लेनी है या फिर आपको इसमें आवेदन करने में कोई दिक्कत आ रही है तो आप निचे दिए गए हेल्पलाइन नंबर पर सम्पर्क कर सकते है :-

  • Helpdesk Number: 0141-2226638 (09:30AM To 06:00PM || Monday To Friday)
  • SJMS Support E-Mail: support.sje@rajasthan.gov.in

दोस्तो अगर आप हमारे द्वारा दी गयी किसी भी जानकारी से संतुष्ट है या फिर आपको बताई गयी जानकारी मे किसी भी प्रकार की कोई गलती दिखाई देती है तो आप हमे कमेन्ट बॉक्स मे लिख कर जरूर बताए |

योजना से जुड़े हुये कुछ सवाल

राजस्थान अंतर्जातीय विवाह प्रोत्साहन योजना क्या है ?

इस योजना के तहत वे नोजवाना जो अंतर्जातीय विवाह करना चाहते है उनको सरकार प्रोत्साहन राशि देती है ताकि वे अपने घर का इंतजाम कर सके इस योजना के जरिये मिलने वाली प्रोत्साहन राशि एकमुश्त होती है

योजना के तहत प्रोत्साहन राशि कितनी दी जाती है ?

इस योजना के तहत पति और पत्नी को 5 लाख रुपए प्रोत्साहन राशि के रूप मे मिलते है इनमे से 2.50 लाख रुपए दोनों के संयुक्त खाते मे 8 साल के लिए फिक्स डिपॉजिट कर दिये जाते है और बाकी के 2.50 लाख रुपए दोनों को दे दिये जाते है ताकि वे अपने रहने खाने की व्यवस्था कर सके मिलने वाली धन राशि लाभार्थी के खाते मे सीधे ट्रान्सफर की जाती है |

Note: अगर आप इस योजना का लाभ पाना चाहते है तो आपको इसके लिए शादी के 1 साल के अंदर आवेदन करना होता है

यह भी पढ़े :-

Leave a Comment