सुकन्या समृद्धि योजना 2024: Sukanya Samriddhi Yojana आवेदन फॉर्म

Sukanya Samriddhi Yojana in Hindi: देश की बेटियाँ अपने भविष्य के लिए कुछ बचत कर सक इसके लिए देश के पीएम नरेंद्र मोदी जी ने इस योजना की शुरुवात 22 जनवरी 2015 को की थी । इस योजना के तहत 10 साल से कम आयु की कन्याओ का खाता खोला जाता है यह खाता राष्ट्रिय बैंक, पोस्ट ऑफिस या फिर अन्य एजेंसी मे हो सकता है । कन्याओ का खोले जाने वाला यह खाता बचत खाता होता है । इस योजना में आप न्यूनतम 250 रुपए और अधिकतम 1.5 लाख रुपए तक खाते मे जमा करवा सकते है । वर्तमान समय में इस योजना के तहत ब्याज दर 7.6% प्रतिवर्ष है। इस योजना में आपको बेटी के 14 साल की उम्र तक निवेश करना होता है। इस आर्टिकल में हम Sukanya samriddhi yojana में आवेदन फॉर्म भरने से जुड़ी सारी जानकारी को विस्तार से जानेंगे।

सुकन्या समृद्धि योजना

Sukanya Samriddhi Yojana in Hindi 2024

यह केंद्र सरकार की योजना है इस योजना के तहत कन्याओ का उनके जन्म से लेकर 10 साल की आयु तक बचत खाता खोला जाता है । ताकि उनको भविष्य मे पेसो की कमी का सामना ना करना पड़े । बेटी के इस खाते मे आपको बेटी के भविष्य के लिए धन राशि जमा करनी होती है। बेटी के 18 साल की उम्र होने पर आप कुल धन राशि मे से 50% निकाल सकते है और बेटी के 21 साल की उम्र होने पर आप यह राशि पूरी निकलवा सकते है। योजना की खास बात यह है की आप इसमे अधिकतम जमा करवाकर मेच्योरिटी पर 64 लाख रुपए तक की राशि प्राप्त कर सकते है जो की बेटी के भविष्य के लिए काम मे लिया जा सकता है |

Sukanya Samriddhi Yojana का उद्देश्य

इस योजना का उद्देश्य बेटियो के भविष्य बेटियो के भविष्य को सुरक्षित करना है । हमारे समाज मे बहुत लोग अभी भी एसे है जो बेटियो को बोझ मानते है इसका एक कारण परिवार की आर्थिक स्थिति का खराब होना भी है । सरकार चाहती है की अगर इस योजना के माध्यम से बेटियाँ कुछ अपने पेसे की बचत करती है तो यह पेसा आगे चलकर उनकी पढ़ाई लिखाई और शादी के टाइम मे काम मे लिया जा सकता है । Sukanya samriddhi yojana से सरकार की बेटी बच्चाओ बेटी पढ़ाओ योजना को बढ़ावा मिलेगा । देश की कोई भी बेटी इस योजना का लाभ ले सकती है |

सुकन्या समृद्धि योजना में किये गए 5 बदलाव

इस योजना के तहत सरकार समय समय पर अनेक प्रकार के नियमो में बदलाव करती रहती है इसी प्रकार से सरकार ने इस योजना के तहत कुछ अहम 5 बदलाव किये है जो की इस प्रकार से है :-

1. अपने अकाउंट का संचालन

  • नए नियम के अनुसार अगर बेटी की मौत हो जाती है या फिर अनुकम्पा की स्थिति में अकाउंट को समय से पहले बंद करने की अनुमति दी गई है |
  • अनुकम्पा में खाताधारक की जानलेवा बीमारी या उसके माता पिता की मौत की स्थिति सामिल है | पहले के नियम के आधार पर बेटी की मौत होने पर या बेटी के रहने का स्थान बदलने पर ही खाता बंद किया जा सकता था |

2. डिफ़ोल्टअकाउंट पर होगी अधिक ब्याज दर

  • इस योजना के तहत लाभार्थी को प्रति वर्ष 250 रुपए न्यूनतम राशि इस खाते मे जमा करवानी होती है लेकिन अगर कोई 1 साल के अंदर इस राशि को जमा नहीं करवा पाता है तो उस खाते को डिफ़ोल्ट अकाउंट कहा जाता है ।
  • इसके तहत इस डिफ़ोल्ट अकाउंट खाते पर वही ब्याज दर दिया जाएगा जो इस योजना मे तय है । नए नियम के अनुसार अगर खाता फिर से एक्टिव नहीं किया जाता है तो मेच्योर होने तक डिफ़ॉल्ट अकाउंट पर स्कीम के लिए लागु दर से ब्याज मिलता रहेगा |

3. तीसरा बदलाव

  • पहले 10 साल की उम्र से बेटी को खाते को ओपरेट करने की अनुमति थी लेकिन नए नियम के अनुसार यह उम्र 18 साल कर दी गयी है | 18 साल की उम्र तक बेटी के अभिभावक खाते को ओपरेट करेंगे |
  • 18 साल की होने के बाद बेटी को दस्तावेज उस बैंक या पोस्ट ऑफिस में जमा करना है जहाँ पर खाता खुला है |

4. दो से अधिक बेटियां खाता खुलवा सकती है

  • पहले इस योजना के तहत दो बेटियां खाता खुलवा सकती थी हालाँकि अगर पहली बेटी के बाद दो जुड़वाँ बेटी पैदा होती है तो वो सब खाता ओपन कर सकती है लेकिन नए नियम के अनुसार अगर दो बेटिओं से अधिक का खाता खुलवाना है तो जन्म प्रमाण पत्र के साथ साथ एफिडेविट भी जमा करवाना होगा |
  • पहले सिर्फ मेडिकल सर्टिफिकेट जमा करने की आवश्यकता थी |

5. पांचवां बदलाव

  • कुछ अन्य बदलाव भी Sukanya samriddhi yojana के तहत किये गए है| नए नियम के अनुसार ब्याज दर डालने पर उसे वापिस पलटने का नियम हटाया गया है |
  • नए नियम के आधार पर खाते में ब्याज वित्त वर्ष के अंत में क्रेडिट किया जायेगा |

Sukanya Samriddhi Yojana के लाभ

  • देश की बेटिओं के लिए यह एक बच्चत योजना है |
  • योजना के तहत आपको इनकम टैक्स अधिनियम 1961 के सेक्शन 80C के तहत टेक्स छुट भी मिलती है |
  • योजना के तहत लाभार्थी को प्रतिवर्ष 150000 रूपये तक की छुट सरकार देती है |
  • इस योजना के तहत ब्याज को बार्षिक आधार पर खाते में जमा किया जाता है और अर्जित /संचित ब्याज पर कोई टेक्स नहीं लगता है |
  • इस योजना में टेक्स छुट का दावा लड़की के माता पिता या फिर क़ानूनी अभिभावक के द्वारा किया जा सकता है | केवल एक जमाकर्ता आयकर अधिनियम की धारा 80 C के तहत छुट के लिए पात्र होता है |
  • इस योजना में 10 साल से कम उम्र की बेटी को पात्र माना जाता है |
  • Sukanya samriddhi yojana के तहत बेटी के 18 साल की होने के बाद कुल राशी का 50% पढाई के लिए निकाल सकती है |
  • बेटी 21 साल की होने के बाद पूरी राशी निकाल सकती है |
  • आप बैंक या फिर पोस्ट ऑफिस में खाता खुलवा सकते है |

सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट ओपनिंग कैसे करें?

आप ऑनलाइन या ऑफलाइन दोनों प्रकार से अकाउंट ओपन करवा सकते है। ऑनलाइन आप बैंक की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर ओपन कर सकते है और ऑफलाइन ओपन करने की प्रक्रिया निचे दी गई है:

  • सबसे पहले आपको अपने नजदीकी बैंक की शाखा में जाना होगा।
  • बैंक के कर्मचारी से सम्पर्क करे आपको इस योजना के बारे में जानकारी प्रदान करेगा।
  • फिर आपके डॉक्यूमेंट वेरीफाई करेगा।
  • आपको फॉर्म भरना है और डॉक्यूमेंट बैंक में जमा करने है।
  • इसके बाद आपका अकाउंट ओपन कर दिया जायेगा।

क्या बैंक अकाउंट को समय से पहले बंद किया जा सकता है

योजना मे नए नियमो के अनुसार सहानुभूति के आधार पर खाते को पहले भी बंद किया जा सकता है अगर बच्ची की कोई जानलेवा बीमारी हो जाती है या फिर उसके परिवार मे किसी की मोत हो जाती है तो उस टाइम इस खाते को बंद किया जा सकता है ।अगर आप Sukanya Samriddhi Yojana मे दो बेटियो से अधिक का खाता खुलवाना चाहते है तो इसके लिए आपको अतिरिक्त डॉक्युमेंट्स देने होते है ।

सुकन्या समृद्धि योजना के तहत मिलने वाला लाभ

  • 1000 रूपये प्रतिमाह – 1.80 लाख – 5.70 लाख रूपये
  • 2000 रूपये प्रतिमाह – 3.60 लाख – 11.40 लाख
  • 3,000 रूपये प्रतिमाह – 5.40 लाख – 17.11 लाख
  • 4,000 रूपये प्रतिमाह – 7.20 लाख – 22.81 लाख
  • 5,000 रूपये प्रतिमाह – 9.00 लाख – 28.51 लाख
  • 12,500 रूपये प्रतिमाह – 22.5 लाख – 73.90 लाख

सुकन्या समृद्धि योजना Documents

  • आधार कार्ड
  • बच्ची की और माता पिता की फोटो
  • निवास प्रमाण पत्र
  • बच्ची का जन्म प्रमाण पत्र
  • जमा करता का पेन कार्ड या राशन कार्ड
  • खाता खुलवाने वाली बच्ची की आयु 10 साल से अधिक नहीं होनी चाहिए ।

Sukanya Samriddhi Yojana के लिए पात्रता

  • आवेदक भारत का स्थाई निवासी होना चाहिए |
  • 10 साल तक की बेटी योजना के तहत खाता खुलवा सकती है |
  • खाता आप बैंक या फिर पोस्ट ऑफिस में खुलवा सकते है |
  • एक माता पिता की दो बेटियां इस योजना के लिए पात्र है |
  • आवेदक बेटी खाता खोलने के दिनांक से 14 साल पूरा होने के बाद खाते में पैसा जमा कर सकती है |

Sukanya Samriddhi Yojana 2024 Registration Form

अगर आप इस योजना का लाभ लेना चाहते है तो आपको इसके लिए सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट ओपनिंग फॉर्म भर्ना होता है इसके लिए आप पोस्ट ऑफिस की आधिकारिक वेबसाइट से इस फॉर्म को डाउनलोड कर सकते है इस फॉर्म को भरने के बाद इसके साथ मागे गए डॉक्युमेंट्स अटेच करके इसे पोस्ट ऑफिस मे जमा करना होता है ।

सुकन्या समृद्धि योजना के तहत आने वाले बैंक

  • स्टेट बैंक ऑफ त्रावणकोर
  • ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स
  • स्टेट बैंक ऑफ हैदराबाद
  • पंजाब एंड सिंध बैंक
  • यूनियन बैंक ऑफ इंडिया
  • यूको बैंक
  • यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया
  • विजय बैंक
  • बैंक ऑफ बड़ौदा
  • स्टेट बैंक ऑफ पटियाला
  • स्टेट बैंक ऑफ मैसूर
  • इंडियन ओवरसीज बैंक
  • भारतीय बैंक
  • पंजाब नेशनल बैंक
  • आईडीबीआई बैंक
  • आईसीआईसीआई बैंक
  • सिंडीकेट बैंक
  • स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर एंड जयपुर
  • इलाहाबाद बैंक
  • भारतीय स्टेट बैंक
  • ऐक्सिस बैंक
  • आंध्रा बैंक
  • बैंक ऑफ महाराष्ट्र
  • बैंक ऑफ इंडिया
  • कॉर्पोरेशन बैंक
  • सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया
  • केनरा बैंक
  • देना बैंक

निष्कर्ष

बेटिओं के लिए यह एक बहुत अच्छी योजना है। इस Sukanya samriddhi yojana के साथ जुड़कर आप बेटिओं के भविष्य के लिए एक बहुत अच्छी रकम की बचत कर सकते है। आप किसी भी बैंक या पोस्ट ऑफिस में जाकर इस योजना का खाता खुलवा सकते है और इस लाभ ले सकते है।

Leave a Comment