किसान रेल योजना 2022: Kisan Rail Scheme Online Apply

Kisan Rail Yojana 2022 Online Registration | Kisan Rail Yojana In Hindi | किसान रेल योजना 2022 ऑनलाइन आवेदन | what is kisan rail scheme

किसान रेल योजना 2022 – केंद्र सरकार ने किसान रेल योजना 2022 शुरू कर दिया है । देश की पहली किसान रेल सेवा योजना है इस योजना की घोषणा केंद्र सरकार ने फरवरी माह मे पेस होने वाले बजट मे ही कर दी थी । 7 अगस्त 2021 को किसान रेल सेवा को शुरू कर दिया है । इस योजना का मुख्य उद्देश्य किसानो की फसल को नुकसान होने से बचाना है अक्सर क्या होता है की किसानो की फसल मंडियो तक पहुँच नहीं पाती है जिससे किसान भाइयो की फसल नस्ट हो जाती है और उन्हे आर्थिक नुकसान झेलना पढ़ता है लेकिन अब एसा नहीं होगा । साथियो अगर आप किसान रेल योजना 2022 की संपूरण जानकारी जेसे की इसके लिए ऑनलाइन आवेदन केसे केर आदि के बारे मे आपको जानकारी इस आर्टिकल मे मिलेगी तो आप काही जायेगा नहीं बने रहिए हमारे साथ ।

किसान रेल योजना

Kisan Rail Yojana In Hindi

केंद्र सरकार और भारतीय रेलवे विभाग ने इस योजना की शुरुवात की है इस योजना को शुरू 7 अगस्त 2020 को किया गया है देश की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इस योजना की घोसणा फरवरी माह मे पेश होने वाले बजट मे ही कर दी थी । इस योजना का मुख्य उद्देश्य किसानो को लाभ देना है किसान भाई किसी यातायात की सुविधा न होने के कारण अपनी फसल को मंडियो तक नहीं पहुंचा पाते है जिसके कारण फसल खराब हो जाती है या फिर नस्ट हो जाती है यदि यह रेल सेवा सुचारु रूप से काम करने लगती है तो किसान भाई की आमदनी मे जरूरु इजाफा होगा । किसान रेल योजना केंद्र सरकार के द्वारा शुरू की गई योजना है |

किसान रेल योजना न्यू अपडेट

जैसा की दोस्तों आप जानते है की यह योजना किसानो और व्यापरियो के बीच काफी लोकप्रिय है | प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने महाराष्ट्र के सांगोला से बंगाल के शालीमार के बीच 100 वीं किसान रेल को हरी झंडी दी है | यह रेल 40 घंटो में 2 हजार से अधिक किलोमीटर की दुरी तय करेगी | पहले यहाँ पर मछलियों के लिए मार्किट नहीं था जो अब किसान रेल के माध्यम से सफल होगा |

  • किसान रेल किसानो के लिए सरकार के द्वारा शुरू की गई है जिसके माध्यम से जल्दी ख़राब होने वाले कृषि उत्पादों को उनकी निश्चित जगह पर कम समय में पहुँचाया जायेगा |
  • किसान रेल चलता फिरता कोल्ड स्टोरेज है क्युकी इसमें जल्दी ख़राब होने वाले उत्पाद जैसे की दूध , फल ,सब्जी ,मछली आदि सुरक्षित रहते है |
  • Kisan Rail Scheme से देश के 80% छोटे और सीमांत किसानो को लाभ मिलेगा | इस मोके पर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने कहा है की नई नई टेक्नोलोजी को भारतीय कृषि में समावेश किया जायेगा |
  • पीएम कृषि संपदा योजना के तहत मेगा फूड पार्क्स, कोल्ड चेन इंफ्रास्ट्रक्चर, एग्रो प्रोसेसिंग क्लस्टर, ऐसे करीब साढ़े 6 हजार प्रोजेक्ट स्वीकृत किए गए हैं |
  • अब तक देश में 100 किसान रेल चलाई जा चुकी है | हवाई मार्गो से कृषि उत्पाद ले जाने के लिए सरकार ने कृषि उड़ान योजना को शुरू कर रखा है |

Kisan Rail Scheme 2022 highlights

योजना का नाम किसान रेल योजना 2022
योजना की शुरुवात 7 अगस्त 2020
योजना टाइप केंद्र सरकार और भारतीय रेलवे विभाग ने शुरू की
लाभार्थी देश के किसान
उद्देश्य किसानो की मदद करना
कुल किसान रेल की संख्या 100

Kisan Rail Scheme 2022

योजना के तहत केंद्र सरकार 7 अगस्त 2020 को पहली ट्रेन चला रही है । यह ट्रेन महाराष्ट्र के देवलाली स्टेशन से रवाना होगी और बिहार के दानापुर स्टेशन तक जाएगी । सुभह 11 बजे किसान ट्रेन महाराष्ट्र के देवलाली स्टेशन से रवाना होगी । इस बीच जो भी किसान भाई अपने फल ,सब्जिया फूल और अन्य कृषि उत्पादो का रखरखाव इस मे करना चाहते कर सकते है किसानो के कृषि उत्पादो के लिए इस ट्रेन मे शीत भंडारण की भी व्यवस्था होगी इसके साथ साथ किसान भाई बिना किसी डर के इस ट्रेन से अपने उत्पाद ले जा सकते है ।

महाराष्ट्र के देवलाली स्टेशन से बिहार के दानापुर स्टेशन तक की बीच की दूरी लगभग 1519 km है जो की यह ट्रेन 32 घंटो मे तय करेगी । यह एक सार्वजनिक निजी भागीदारी (पीपीपी) योजना है । इस आर्टिकल मे आपको यह जानकारी देंगे की आप किस प्रकार से Kisan Rail Scheme 2022 का लाभ लेने के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर सकते है ।

किसान रेल योजना के लाभ

  • अब किसान भाई बिना किसी नुकसान के अपने कृषि उत्पादो को जेसे फल ,फूल ,सब्जियाँ अपने गंतवय स्थान तक पहुंचा सकते है जिससे किसानो की फसल नस्ट होने का खतरा नहीं रहेगा ।
  • किसान रेल मे किसानो को सीत भंडारण का भी ऑप्शन मिलेगा जिसमे वो अपने कृषि उत्पादो को रख सकते है वो भी किसी प्रेसानी के बिना ।
  • देश के पीएम मोदी जी का सपना है की 2022 तक किसानो की आय दोगुनी की जाये इस योजना से किसानो की आय मे व्र्धि होने के आसार है जिससे पीएम का सपना भी पूरा होने मे सहायता मिलेगी ।
  • यह ट्रेन महाराष्ट्र से रवाना होकर बिहार तक जाएगी । बीच मे उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश भी आएंगे यानि की इस रेल सेवा का फायदा चार राज्य के किसानो की मिलेगा ।
  • इस योजाना की घोसणा फरवरी मे पेश होने वाले बजट के दोरान हो गयी थी ताकि जल्दी खराब होने वाले कृषि उत्पादो को खराब होने से पहले मंडियो तक पहुंचाया जा सकता है ।

Kisan Rail Yojana के उद्देश्य

अक्सर क्या होता है की किसानो की फसल टाइम से मंडियो तक न जाने के कारण खराब हो जाती है और इसका नुकसान किसानो को उठाना पढ़ता है । बहुत से एसे कृषि उत्पाद होते है जिनकी वेलीडिटी कुछ टाइम के लिए होती है एसे उत्पादो को अगर टाइम पर मंडियो तक न पहूंचाया जाए तो ये खराब हो जाते है लेकिन अब इस रेल सेवा के आ जाने से किसान टाइम पर अपनी कृषि उत्पाद को मंडियो तक पहुंचा सकते है योजना का मुख्य उद्देश्य किसानो को लाभ पहुंचाना है ।

किसान रेल योजना मे ट्रेन का किराया कितना होगा

इस ट्रेन मे किसानो को अपने कृषि उत्पाद जेसे फल, फूल ,सब्जियों के लिए प्रति टन के हिसाब से किराया देना होगा ।कुछ किराए की रेट नीचे दी गयी है आप उसे देख सकते है और यह प्रति टन के हिसाब से है :-

  • मनमाड से दानापुर – 3849 रुपए
  • देवलाली से दानापुर – 4001 रुपए
  • जलगांव से दानापुर – 3513 रुपए
  • भुसावल से दानापुर – 3459 रुपए
  • बुरहानपुर से दानापुर – 3323 रुपए
  • खंडवा से दानापुर – 3148 रुपए

किसान रेल योजना 2022 मे ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन केसे करे

केंद्र सरकार की इस योजना का लाभ अगर आप लेना चाहते है तो आपको इसके लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करना होगा लेकिन आपको बता दे की इस योजना मे अभी तक कोई ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन अभी शुरू नहीं किए गए है लेकिन जल्द ही इस योजना मे ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन शुरू हो जाएगे जेसे ही शुरू होते है हम आपको अपने आर्टिकल मे माध्यम से सूचना करते रहेंगे । किसान रेल योजना के बारे मे अधिक से विस्तार से जानने के लिए आप इस वैबसाइट पर जाकर के देख सकते है ।

जरूरी सवाल

Q. किसान रेल योजना क्या है ?

Ans. केंद्र सरकार की इस योजना के तहत किसानो के लिए ट्रेन चलाई जाएगी ताकि किसान अपने कृषि उत्पादो जेसे फल ,फूल ,सब्जियों को और जल्दी खराब होने वाले कृषि उत्पादो को मंडियो तक समय पर ले जा सकेंगे ताकि इनके ये उत्पाद खराब न हो ।

Q. Kisan rail yojana का उद्देश्य क्या है ?

Ans. इस योजना का मेन उद्देश्य किसानो को लाभ देना है किसानो की आर्थिक मदद करना है ।

Q. किसान रेल योजना की शुरुवात कब की गयी ?

Ans. 7 अगस्त 2020 को

Q. ट्रेन से कितने राज्यो को लाभ होगा ?

Ans. चार राज्यो को – महाराष्ट्र ,उत्तर प्रदेश ,मध्य प्रदेश ,बिहार ।

Q. इस ट्रेन का रूट क्या होगा ?

Ans. यह ट्रेन महाराष्ट्र के देवलाली स्टेशन से रवाना होगी और बिहार के दानापुर स्टेशन तक जाएगी । सुभह 11 बजे किसान ट्रेन महाराष्ट्र के देवलाली स्टेशन से रवाना होगी । महाराष्ट्र के देवलाली स्टेशन से बिहार के दानापुर स्टेशन तक की बीच की दूरी लगभग 1519 km है जो की यह ट्रेन 32 घंटो मे तय करेगी । बीच मे जो स्टेशन आएगे वो है – नासिक रोड ,मनमाड ,जलगांव ,भुसावल ,बुरहानपुर ,खंडवा ,इटार्सि ,जबलपुर ,सतना ,कटनी ,माणिकपुर ,प्रयागराज ,पंडित दीन दयाल उपाध्याय नगर ,बक्सर से दानापुर रुकेगी । यह ट्रेन हर शुक्रवार को देवलाली से दानापुर के लिए चलेगी और हर रविवार को दानापुर से देवलाली के लिए चलेगी ।

Leave a Comment