गुजरात मुख्यमंत्री किसान सहाय योजना 2022: kisan sahay scheme

Mukhyamantri Kisan Sahay Yojana 2022 Online Registration | Gujarat mukhyamantri kisan sahay yojana farmer registration 2022 | Mukhyamantri kisan sahay yojana application form

मुख्यमंत्री किसान सहाय योजना गुजरात राज्य के किसानो को प्राक्रतिक आपदा जैसे आंधी ,तूफान ,अधिक बारिश आदि के करन किसानो की फसल नस्ट हो जाती है सरकार इस योजना के तहत किसानो को फसल नस्ट होने पर मुवाजा देगी | किसान सहाय योजना (કિસાન સહાય યોજના) योजना की शुरुवात गुजरात के मुख्यमंत्री श्री विजय रुपानी जी के द्वारा 10 अगस्त 2020 को की गयी थी | दोस्तों इस आर्टिकल में हम गुजरात किसान सहाय योजना के बारे में विस्तार से जानेगे की इस योजना का हम किस प्रकार से लाभ ले सकते है और योजना के लिए पात्रता ,दस्तावेज क्या है तो आप इस आर्टिकल को पूरा पढ़े |

Gujrat Mukhya Mantri Kisan Sahay Yojana – ગુજરાત મુળ મંત્રી કિસાન સહાય યોજના

राज्य में गुजरात सरकार राज्य के किसानो के लिए अनेक प्रकार की लाभकारी योजना लेकर के आ रही है और किसानो को अधिक से अधिक लाभ हो यह उद्देश्य लेकर सरकार चल रही है | अनेक प्रकार की प्राक्रतिक आपदा जैसे बढ़ का आना ,अधिक बारिश का होना ,आंधी ,तूफान आदि के कारण किसानो की फसल नस्ट हो जाती है जिसका सारा भार किसानो के कंधे पर पड़ जाता है | आर्थिक रूप से कमजोर किसान और कमजोर हो जाता है | सरकार ने किसानो की इसी समश्या को देखते हए किसान सहाय योजना की शुरुवात की है |

मुख्यमंत्री किसान सहाय योजना गुजरात योजना के तहत सरकार किसानो को फसल के नुकसान की भरपाई के लिए मुवावजा देगी ताकि किसानो के कंधे पर सारा बोझ न पड़े |किसानो की कृषि उपज में 33% से 60% तक नुकसान होने पर सरकार किसानो को अधिकतम 4 हेक्टेयर पर प्रतिहेक्टेयर 20,000 रूपये की मदद देती है और 60% से अधिक नुकसान होने पर अधिकतम 4 हेक्टेयर के लिए प्रतिहेक्टेयर 25,000 का मुवावजा देती है |

किसान सहाय योजना गुजरात का उद्देश्य

प्राक्रतिक आपदा आने पर किसानो की फसल नस्ट होने पर किसानो को भारी नुकसान का सामना करना पड़ता है | प्राक्रतिक आपदा जैसे आधी ,तूफान गुजरात में खरीफ के समय पर अधिक बारिस होने के कारन फसल नस्ट हो जाती है जिसके कारन सारा बोझ किसानो को उठाना पड़ता है | सरकार का उद्देश्य इस नुकसान पर किसानो को आर्थिक मदद उपलब्ध करवाना है ताकि किसानो की आर्थिक स्थिति बनी रहे | अगर देश का किसान मजबूत रहेगा तो देश मजबूर रहेगा | इस योजना की सबसे बड़ी ख़ास बातो में से एक है की इसमें किसानो को किसी भी प्रकार का कोई प्रीमियम नहीं देना होता है |राज्य का वो हर किसान जिसकी फसल प्राक्रतिक आपदा के करन नस्ट हो गयी है वो इस योजना का लाभ ले सकता है |

Gujrat Mukhyamantri Kisan Sahay Yojana Highlights

योजना का नाम गुजरात मुख्यमंत्री किसान सहाय योजना
योजना टाइप राज्य सरकार की योंजना
राज्य गुजरात
किसने शुरू की राज्य के मुख्यमंत्री विजय रुपने जी के द्वारा
कब शुरू की 10 अगस्त 2020
लाभार्थी राज्य के किसान
उद्देश्य किसानो की फसल नुकसान पर मुवावजा देना

गुजरात किसान सहाय योजना के लाभ – કિસાન સહાય યોજનાનો લાભ

  • राज्य का कोई भी किसान जिसकी फसल प्राक्रतिक आपदा के कारन नस्ट हो गयी है वो किसान भाई इस योजना का लाभ लेकर के अपनी भरपाई कर सकता है |
  • किसानो की आर्थिक स्थिति में सुधार होगा |
  • 33% से 60% फसल का नुकसान होने पर राज्य सरकार प्रतिहेक्टेयर 20,000 रूपये का मुवावजा देगी |
  • 60% से अधिक नुकसान होने पर 25,000 रूपये का मुवावजा राज्य सरकार देगी |
  • गुजरात में खरीफ के मोषम में भरी बारिश के करना होने वाले फसल के नुकसान पर राज्य सरकार किसानो को आर्थिक मदद देगी |
  • राज्य में जून से नवम्बर महीने के बिच में भरी बारिस ,बारिस की अनियमितता के करना बाढ़ आने पर फसल के नुकसान पर सरकार मुवावजा देगी |
  • सरकार इस योजना के तहत अधिकतम 4 हेक्टेयर तक की फसल के लिए मुवावजा देगी |
  • राज्य के 56 लाख किसानो को इस योजना का लाभ प्रदान किया जायेगा |
  • इस योजना का लाभ लेने वाले किसानो को किसी भी प्रकार का कोई प्रीमियम नहीं देना होता है |

કિસાન સહાય યોજના માટેની પાત્રતા – पात्रता

  • आवेदक गुजरात राज्य का स्थाई निवासी होना चाहिए |
  • जिस किसान की फसल प्राक्रतिक आपदा के करना नस्ट हुयी है केवल वो ही किसान इस योजना के लिए पात्र है |
  • राज्य का किसी भी वर्ग का किसान इस योजना का लाभ ले सकता है |
  • राज्य का केवल किसान ही इस योजना के लिए पात्र है |
  • राज्ये में राजस्व रिकॉर्ड में पंजीकृत सभी 8 A धारक किसान खाताधारक एव वन अधिकार अधिनियम के तहत मान्यता प्राप्त किसानो को इस योजना का लाभ प्रदान किया जायेगा |
  • કિસાન સહાય योजना को 2020 में खरीफ फसल में लागु किया जायेगा तो किसान इस योजना के लिए खरीफ के सीजन में आवेदन कर सकता है |

કિસાન સહાય યોજનાના દસ્તાવેજો – दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर
  • पहचान पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र

मुख्यमंत्री किसान सहाय योजना के लिए आवेदन कैसे करे ?

दोस्तों आपको बता दे की गुजरात मुख्यमंत्री किसान सहाय योजना के लिए अभी आवेदन शुरू नहीं किये गए है | राज्य के वो किसान जिनकी फसल प्राक्रतिक आपदा के कारन नस्ट हो गयी है वो अगर इस योजना के लिए आवेदन करना चाहते है तो वो कर सकते है लेकिन सरकार ने अभी तक इस योजना के लिए कोई ऑनलाइन पोर्टल जारी नहीं किया है जहा पर आप इस योजना के लिए आवेदन करे | दोस्तों जब भी गुजरात सरकार इस योजना के लिए कोई ऑनलाइन पोर्टल जारी करती है तो हम आपको इस आर्टिकल के जरिये आपको बता देंगे तो आप अधिक जानकारी लेने के लिए हमारी वेबसाइट पर आने वाल notification बटन को अल्लो कर सकते है |

लाभार्थी सूचि तैयार करने की प्रक्रिया

गुजरात किसान सहाय योजना की लाभार्थी सूचि जिला कलेक्टर तालुका गांव के उन लोगो की list तैयार करेगा जिनकी फसल प्राक्रतिक आपदा के कारन नस्ट हो गयी है | बाद में इस list को राजस्व विभाग में साझा किया जायेगा |7 दिन के अंदर इस list को वहा पर साझा किया जायेगा | बाद में 15 दिन के बाद एक टीम आएगी जो की नुकसान का सर्वे करेगी यह प्रकिया होने के बाद डिस्ट्रिक्ट डेवलपमेंट ऑफिसर अपने द्वारा साइन की गयी लाभार्थी सूचि को घोषित करेगा | लाभार्थी सूचि दो प्रकार की होगी एक वो जिसमे 33% से 60% हानि होगी और दूसरी में 60% से अधिक हानि होगी |

योजना से जुड़े सवाल

Q.ગુજરાતના મુખ્યમંત્રી કિસાન સહાય યોજના શું છે ?

Ans. ગુજરાતના મુખ્યમંત્રી શ્રી વિજય રૂપાણીએ રાજ્યના ખેડુતોને કુદરતી આફતોને લીધે થયેલા નુકસાનથી વળતર આપવા માટે આ યોજના શરૂ કરી છે. આ યોજના અંતર્ગત રાજ્યના ખેડુતોને% 33% થી 60૦% ના નુકસાન માટે સરકારે મહત્તમ are હેકટર માટે પ્રતિ હેકટર રૂ. જશે

Q.ગુજરાતમાં કિસાન સહાય યોજના ક્યારે શરૂ થઈ હતી ?

Ans. 10 अगस्त 2020 को |

Leave a Comment